+91 9455 042 613

Affilliated To : SIDDHARTH UNIVERSITY, KAPILVASTU (Id: U-0848)

Recognized u/s 2(f) & 12B of UGC

समाचार

हमारे बारे में

होम > हमारे बारे में


हमारे बारे में

राजकीय महाविद्यालय, रूधौली, बस्ती की स्थापना उत्तर प्रदेश शासन द्वारा वर्ष 1998 में की गई जिसमें प्राचार्य - 01, सहायक प्रोफेसर - 06, पुस्तकालयाध्यक्ष -01, वरिष्ठ लिपिक -01, कनिष्ठ लिपिक -01, परिचारक -02 और चौकीदार -01, कुल 13 पदों का सृजन किया गया। प्रारंभिक चरण में दी0द0उ0 गोरखपुर विश्वविद्यालय, गोरखपुर से सम्बद्ध इस महाविद्यालय में स्नातक स्तर पर सह शिक्षा के रूप में हिन्दी, अंग्रेजी, इतिहास, समाजशास्त्र, राजनीतिशास्त्र और अर्थशास्त्र कुल छः विषयों में अध्ययन की सुविधा उपलब्ध है। वर्तमान में यह महाविद्यालय सिद्धार्थ विश्वविद्यालय, कपिलवस्तु जनपद सिद्धार्थनगर से सम्बद्ध है।

रघुपति प्रताप जनता सरस्वती लधु माध्यमिक विद्यालय, रूधौली की प्रबन्ध समिति व प्रधानाचार्य द्वारा सत्र 1998-99 में महाविद्यालय के संचालनार्थ अपने भवन का एक भाग निःशुल्क प्रदान किया गया। महाविद्यालय के स्थायी भवन निर्माण हेतु ग्रामसभा -टिकरी, तहसील - रूधौली, बस्ती द्वारा 5.515 हेक्टेयर का भूखण्ड निःशुल्क प्रदान कराया गया है जिसमें उत्तर प्रदेश जलनिगम गोण्डा ईकाई द्वारा स्थायी भवन का निर्माण कराया गया है जिसका लोकार्पण तात्कालीन उच्च शिक्षा मन्त्री माननीय श्री ओमप्रकाश सिंह जी के द्वारा दिनांक 09 अक्टूबर 2001 को किया गया।



प्राचार्य की कलम से........

उच्च शिक्षा हेतु इस महाविद्यालय में प्रवेश लेने वाले समस्त विद्यार्थियों का मै हृदय से मै स्वागत करता हूँ । महाविद्यालय परिवार निरन्तर प्रयासरत है कि विद्यार्थियों को उनकी पसन्द के व रोजगारन्मुखी पाठ्यक्रम का मौका मिल सके,आवश्यक सुविधाएँ प्राप्त हो सके और बेहतर व्यवस्था हो। इस दृष्टि से हम अपने समस्त स्टाफ सहित इसके लिए प्रयासरत है कि उपलब्ध विषयों के अतिरिक्त विषय और संकाय की स्थापना की स्वीकृति शासन स्तर पर मिल सके। हर्ष का विषय है कि महाविद्यालय की अपनी वेबसाइट तैयार हो चुकी है और हम नैक की ग्रेडिंग प्राप्त करने के लिए तैयारी कर रहे है। आने वाले समय में और भी अधिक व्यवस्थित सुविधाएँ व अध्ययन कक्ष हो इसके लिए हम सब निरन्तर प्रयासरत है।

हमारा ध्येय हमेशा रहा है और रहेगा कि हमारे विद्यार्थी अधिक अनुशासित रहे, उत्तम जीवन शैली हो, चहुमुखी विकास हो, वांछित जीवन मूल्यों, मानवता और सामाजिकता की भावनाओं से ओतप्रोत मन हो और सुसंगठित व्यक्तित्व के धनी हो ताकि जीवन की समस्त भूमिकाओं का निर्वाह पूरी लगन, जिम्मेदारी और ईमानदारी से भलीभॉति करने योग्य बने और अपने परिवार, महाविद्यालय, नगर और राष्ट्र का मान बढ़ा सके |

सफल और गौरवपूर्ण जीवन हेतु अनेक शुभकामनाएँ..........

डा0 राजेश कुमार शर्मा

  • डा0 राजेश कुमार शर्मा

राजकीय महाविद्यालय, रुधौली, बस्ती




हम क्या करेंगे ?

हमारा उद्देश्य

बस्ती - बॉंसी मार्ग पर रूधौली से लगभग 07 कि0मी0 दूर सुरवार - हनुमानगंज रोड से संलग्न उच्च शिक्षा के मन्दिर के रूप में सुदूर ग्रामीणांचल में अवस्थित यह महाविद्यालय अपने विद्यार्थियों के आपसी सहयोग तथा संकाय सदस्यों की विद्वता, कुशाग्रता और प्रतिबद्धता द्वारा उनमें क्षेत्रीय व राष्ट्रीय आवश्यकताओं के अनुरूप भारतीय आदर्शों, नैतिक मूल्यों तथा उनकी उम्मीदों को पूरा करने के लिए पूरी गति और योग्यता के साथ कठिनाईयों के बावजूद परिस्थितीयों को व्यवस्थित करने के लिए प्रयासरत है।

हमारा लक्ष्य

महाविद्यालय का प्रमुख लक्ष्य सुदूर ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले उन छात्र-छात्राओं को उच्च शिक्षा के प्रति जागरूक व सजग करना है जो समाज के वंचित वर्ग से हैं और जिनके पास संसाधनों तथा सुविधाओं का अभाव है। महाविद्यालय इन्हे यथासंभव निःशुल्क शिक्षा प्रदान कर एक ऐसे समाज की संरचना करने के लिए प्रयत्नशील है जो ज्ञान, चरित्र और दक्षता के साथ देशी विरासत तथा मानव संस्कृति के श्रेष्ठ परम्पराओं, मूल्यों तथा उपलब्धियों की रक्षा कर सके - उसका संवर्धन और सम्पोषण कर सके।

4

teachers

6

courses

400

students

19

EXPERIENCE



मान्यता प्राप्त

राजकीय महाविद्यालय, रूधौली, बस्ती की स्थापना उत्तर प्रदेश शासन द्वारा वर्ष 1998 में की गई जिसमें प्राचार्य - 01, सहायक प्रोफेसर - 06, पुस्तकालयाध्यक्ष -01, वरिष्ठ लिपिक -01, कनिष्ठ लिपिक -01, परिचारक -02 और चौकीदार -01, कुल 13 पदों का सृजन किया गया। प्रारंभिक चरण में दी0द0उ0 गोरखपुर विश्वविद्यालय, गोरखपुर से सम्बद्ध इस महाविद्यालय में स्नातक स्तर पर सह शिक्षा के रूप में हिन्दी, अंग्रेजी, इतिहास, समाजशास्त्र, राजनीतिशास्त्र और अर्थशास्त्र कुल छः विषयों में अध्ययन की सुविधा उपलब्ध है। वर्तमान में यह महाविद्यालय सिद्धार्थ विश्वविद्यालय, कपिलवस्तु जनपद सिद्धार्थनगर से सम्बद्ध है।